पुर्तगालियों ने गोवा और अन्य भारतीय क्षेत्रों पर अपना अधिकार छोड़ने से इनकार कर दिया. पुर्तगालियों के साथ असंख्य असफल वार्ताओं और राजनयिक प्रयासों के बाद, भारत के पूर्व प्रधान मंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने फैसला किया कि सैन्य हस्तक्षेप ही एकमात्र विकल्प था.

SBI Clerk Prelims Result 2022: State Bank of India Result Official Update

SBI Clerk Prelims Result 2022: एसबीआई क्लर्क 2022 प्रीलिम्स रिजल्ट को लेकर एक नई अपडेट के माध्यम से बताया जा रहा है कि एसबीआई क्लर्क प्रीलिम्स का रिजल्ट बहुत जल्दी होने वाला है। जैसे कि आप सभी को पता है कि एसबीआई क्लर्क परीक्षा का आयोजन 12 से लेकर 25 नवंबर 2022 को आयोजित किया गया था। जितने भी मैं द्वार इस परीक्षा में शामिल हुए थे उन सभी को पता ही होगा कि 25 नवंबर 2022 को परीक्षा समाप्त हो चुका था और सभी को इंतजार है कि एसबीआई क्लर्क प्रीलिम्स 2022 का फाइनल रिजल्ट कब तक जारी किया जाएगा। जिसे देखते हुए एक नई अपडेट के माध्यम से बताया जा रहा है कि एसबीआई क्लर्क परीक्षा परमवीर जब समाप्त होता है उसके 20 दिन के अंदर ही रिजल्ट जारी कर दिया जाता है।

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि कल अप्रैल 2022 का रिजल्ट 15 दिसंबर 2022 तक जारी कर दिया जाएगा अगर आप भी इंतजार कर रहे हैं इसलिए कल रिजल्ट की तो आप सभी का इंतजार समाप्त हुआ आप सभी का रिजल्ट कब जारी किया जा सकता है। लेकिन अभी तक इसलिए कल की तरफ से कोई भी अधिकारी घोषणा नहीं की गई है सूत्रों के मुताबिक ही बताया जा रहा है कि इस बीच का रिजल्ट कब जारी किया जा सकता है।

SBI Clerk Result Date

एसबीआई क्लर्क 2022 परीक्षा का परिणाम बहुत ही जल्द जारी होने वाला है जूनियर एसोसिएशन के पद के हेतु 5486 रिक्तियों की नई भर्ती आ चुकी दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प है जिसमें परीक्षा का आयोजन बहुत ही जल्द होने वाला है एसबीआई परीक्षा में जितने भी उम्मीदवार उत्तर इन होंगे वह सभी एसबीआई क्लर्क मैंस परीक्षा देने के पात्र होंगे एसबीआई क्लर्क 2022 का रिजल्ट जारी होने के बाद मुख्य परीक्षा का आयोजन जनवरी 2023 में आयोजित की जाने की संभावना जताई जा रही है बताया जा रहा है कि एसबीआई कलर 2022 का परीक्षा जो मेनका आयोजित होने वाला है वह जनवरी 2023 में होगा।

जितने भी लोग एसबीआई कलर 2022 रिजल्ट स्कोर कार्ड का इंतजार कर रहे हैं उन सभी का इंतजार कुछ ही समय बाद समाप्त होने वाला है एसबीआई क्लर्क में जितने भी उम्मीदवार शामिल हुए थे परीक्षा में उन सभी का रिजल्ट अधिकारिक वेबसाइट पर बहुत ही जल्द जारी किया जाएगा और साथ ही साथ स्कोर कार्ड भी देखने को मिल जाएगा रिजल्ट कैसे चेक करना है संपूर्ण प्रक्रिया आपको आर्टिकल में नीचे की तरफ बताई गई है ज्यादा जानकारी हेतु आर्टिकल में अंत तक बने रहे।

SBI Clerk Mains Exam Kab Hoga

बहुत से लोगों के मन में चल रहा है कि इसलिए कलर 2000 22 भर्ती परीक्षा का आयोजन दो चरणों में आयोजित किया जाता है और उसके बाद इंटरव्यू का भी आयोजन होता है आप सभी को पता ही होगा कि एसबीआई कलर परीक्षा समाप्त हो चुका है अब सभी उम्मीदवारों का इंतजार है बस की एसबीआई कार्ड का रिजल्ट कब आए उसे बीच मुख्य परीक्षा में बैठने के पात्र होंगे अगर बात कीजिए एसबीआई क्लर्क 2023 में आयोजित होने वाली इस परीक्षा की मुख्य परीक्षा का आयोजन जनवरी 2023 में किया जा सकता है उसके बाद ही इंटरव्यू का आयोजन होगा।

या संपूर्ण प्रक्रिया है पूरा करने में 2 से 3 महीने का समय लग जाता है अगर आप भी इस साल एसबीआई का लड़के परीक्षा परिणाम का इंतजार कर रहे हैं तू नीचे की तरफ संपूर्ण प्रक्रिया बताई गई है कि रिजल्ट कैसे चेक करना है याद जानकारी हेतु आर्टिकल को अंत तक पढ़े और नीचे की तरफ परीक्षा तिथि संबंधित तालिकाएं भी बनाई गई है।

वजन घटा कर दिखना चाहते है स्लिम और जवां तो खाया कीजिए काबुली चना, शरीर को मिलेगी फाइबर और प्रोटीन की मजबूती-रहेंगे फिट भी

use Chickpeas to loose weight health tips in hindi | वजन घटा कर दिखना चाहते है स्लिम और जवां तो खाया कीजिए काबुली चना, शरीर को मिलेगी फाइबर और प्रोटीन की मजबूती-रहेंगे फिट भी

Highlights काबुली चना टेस्टी के साथ हेल्थी भी होता है। इससे आपका वेट लॉस भी हो सकता है। लेकिन इसके ज्यादा खाने से आपको समस्या भी हो सकती है।

Kabuli Chana Benefits: काबुली चना (Chickpeas) ने केवल खाने में स्वादिष्ट लगता है बल्कि इससे आपके सेहत को भी फायदा पहुंच सकता है। जी हां, जो लोग अपना वजन कम करना चाहते है, उनके लिए काबुली चना एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

Goa Liberation Day 2022: गोवा मुक्ति दिवस आज, फिर भी 30 मई बना स्थापना दिवस, जानें क्यों

Goa Liberation Day 2022

Goa Liberation Day 2022: गोवा मुक्ति दिवस (Goa Liberation Day) भारत में हर साल 19 दिसंबर को मनाया जाता है और यह उस दिन को चिह्नित करता है जब भारतीय सशस्त्र बलों ने 1961 में पुर्तगाली (Portuguese) शासन के 450 वर्षों के बाद गोवा को मुक्त कराया था. वर्ष 2021 गोवा की आजादी के 60 साल पूरे होने का प्रतीक है. गोवा मुक्ति दिवस को गोवा में बहुत सारे कार्यक्रमों और उत्सवों के रूप में चिह्नित किया जाता है, हालांकि इस बार महामारी के कारण समारोहों के मौन रहने की उम्मीद है. राज्य में तीन अलग-अलग स्थानों से मशाल की रोशनी में जुलूस निकाला जाता है, अंत में सभी आजाद मैदान (Azad Maidan) में मिलते हैं.

गोवा की मुक्ति और स्थापना दिवस

15 अगस्त, 1948 को भारत के स्वतंत्र होने के बाद भी गोवा पुर्तगालियों के कब्जे में रहा. किंतु, पुर्तगाली शासक गोवा वासियों की आकांक्षाओं को पूरा नहीं कर पा रहे थे. भारत सरकार के कई बार आग्रह के बावजूद जब पुर्तगाली नहीं माने तो फिर ऑपरेशन विजय की शुरुआत की गई. अंतत: 19 दिसंबर, 1961 को गोवा को मुक्त करा लिया गया और इसे दमण तथा दीव के साथ मिलाकर केंद्र शासित प्रदेश बनाया दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प गया था. हालांकि, बाद में 30 मई, 1987 को गोवा को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया गया और दमण तथा दीव को अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया. तब से ही 30 मई का दिन गोवा का मुक्ति दिवस यानी स्थापना दिवस के तौर पर मनाया दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प जाता है. स्थापना के बाद पणजी को गोवा की राजधानी तथा कोंकणी भाषा को राजभाषा का दर्जा दिया गया.

1510 में पुर्तगालियों ने भारत के कई हिस्सों का उपनिवेश किया लेकिन 19वीं शताब्दी के अंत तक भारत में पुर्तगाली उपनिवेश गोवा, दमन, दीव, दादरा, नगर हवेली और अंजेदिवा द्वीप तक सीमित थे.

भारत बनाम बांग्लादेश क्रिकेट बेटिंग टिप्स : दूसरा टेस्ट मैच (22 दिसंबर 2022)

VS

parimatch

एकदिवसीय श्रृंखला में शर्मनाक हार के बाद, भारत ने पहला टेस्ट जीतकर एक बार फिर साबित कर दिया है कि भारतीय टीम क्यों सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक हैं। साथ ही पहला टेस्ट मैच जीत कर भारत ने विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप 2021-23 के लिए मूल्यवान अंक भी अर्जित कर लिए है। इसी बीच, मेजबान बांग्लादेश टीम यहां ढाका में होने वाले दूसरे मैच में वापसी करना चाहेगी। ध्यान देने योग्य है कि यह मैच बांग्लादेश की राजधानी ढाका में खेला जाना है और बांग्लादेश इस मैच को कतई हारना नहीं चाहेगा। वही दूसरी ओर भारतीय टीम दूसरा टेस्ट मैच जीत कर सीरीज अपने नाम करने की तैयारी में होगी।

दो मैचों की टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में बांग्लादेश और भारत के बीच अंतिम मुकाबले के लिए मंच तैयार हो गया है। यह मैच 22 दिसंबर गुरुवार को शेरे बांग्ला स्टेडियम, दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प ढाका में खेला जाएगा। यदि आप सट्टेबाजी के कुछ बेहतरीन टिप्स और मैच का पूर्वावलोकन जानना चाहते हैं, तो लेख को अंत तक पढ़ें।

भारत बनाम बांग्लादेश – पूर्वावलोकन और क्रिकेट बेटिंग टिप्स

एक दिवसीय श्रृंखला में शानदार जीत के बाद, बांग्लादेश को पहले टेस्ट मैच में निराशाजनक हार का सामना करना पड़ा। टॉस जीत कर भारत ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया, और भारतीय बल्लेबाजी का संकट यहाँ भी जारी रहा। भारतीय टीम केवल 48 रन के स्कोर पर 3 विकेट खो चुकी थी। जिसके बाद चेतेश्वर पुजारा की 90, श्रेयस अय्यर की 86, और रवि चंद्रन अश्विन की 58 रन की बेहद महत्वपूर्ण पारियों ने भारत को 404 तक पहुंचाया। दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प बांग्लादेश की ओर से तैजुल इस्माल और मेहदी हसन प्रमुख गेंदबाज रखे और दोनों ने ही दिन के अंत में समाप्ति के साथ विकल्प चार-चार विकेट झटके।

जिसके जवाब में, बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेशी टीम मात्र 150 रनो के स्कोर पर ही ढ़ेर हो गयी। भारत की ओर से कुलदीप यादव ने गेंद से घातक प्रदर्शन किया और 5 बांग्लादेशी बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया।

हालांकि, कप्तान केएल राहुल ने बांग्लादेश को फॉलोऑन के आमंत्रित नहीं किया और आगे बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत 254 रनो की बढ़त के साथ दूसरी पारी में बल्लेबाजी के लिए उतरा। दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाजी आखिरकार अपने रंग में नज़र आयी और दो भारतीय बल्लेबाजों ने शतक जड़े। शुभमन गिल ने 152 गेंदों पर 110 रन बनाकर शानदार शतकीय पारी खेली। साथ ही, चेतेश्वर पुजारा ने 130 गेंदों में 102 रन बनाकर अपना सबसे तेज टेस्ट शतक बनाया। मैदान में बांग्लादेश टीम काफी संकट में नज़र आयी और आत्मविश्वास की कमी साफ़ नज़र आ रही थी। भारत ने 258/2 पर पारी घोषित की, और बांग्लादेश के सामने 512 रनो का विशाल लक्ष्य रखा।

पिच और मौसम की स्थिति

अंतिम टेस्ट मैच का पहला दिन काफी गर्म और धूप वाला दिन होगा। मैच के अगले 4 दिनों तक वर्षा की कोई संभावना नहीं है। तापमान में 23 से 28 डिग्री के बीच उतार-चढ़ाव होगा और आर्द्रता प्रत्येक दिन लगभग 50-70% के आस पास रहेगी।

पिच की बात की जाए तो, इस पिच पर औसत पहली पारी का स्कोर 341 होता है और चौथी पारी में 180 तक रहता है। जिससे स्पष्ट है की दोनों कप्तानों के लिए टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करना चाहेंगे। स्पिनर्स को इस पिच पर काफी मदद मिलेगी जबकि तेज गेंदबाज नई गेंद से विकेट झटक सकते हैं। रन बनाने के लिए बल्लेबाजों को कड़ी मेहनत करनी पड़ सकती हैं ।

रेटिंग: 4.47
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 279